Muzaffarpur
Trending

Muzaffarpur में 58 नये Corona पॉजिटिव मामले में 21 डॉक्टर व उनके परिचित भी शामिल

21 Doctors among the 58 corona positive cases in Muzaffarpur, Juran Chapra may be declared containment zone

मुजफ्फरपुर जिले से जो Corona जाँच के लिए पिछले दिनों सैंपल लिए गए थे उनकी रिपोर्ट आते ही जिलें में हाहाकार मच गया है | शुक्रवार को आये रिपोर्ट में 58 नए Corona पॉजिटिव मामले सामने आए हैं। सबसे बड़ी चिंता की बात यह है कि इन पॉजिटिव वाली रिपोर्ट में दो दर्जन से अधिक संक्रमित शहर के बड़े और नामी डॉक्टर और उनके परिजन हैं। उनमें कई कोरोना पॉजिटिव व्यक्ति तो अस्पताल संचालक भी हैं |

रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद तुरंत ही इन सभी संक्रमित व्यक्तियों को क्वारंटाइन कर उनका इलाज शुरू कर दिया गया है। स्थिति गंभीर होते देख शनिवार को मुजफ्फरपुर के जिला अधिकारी ने एक विशेष बैठक बुलाई है जिसमें जूरनछपरा को कंटेनमेंट जोन बनाने पर विचार किया जाएगा। ​मामला इतना गंभीर है की 21 डॉक्टर समेत अन्य 58 लोग भी मिले हैं पॉजिटिव, | मामले की गंभीरता को देखते हुए केजरीवाल अस्पताल को करना पड़ा बंद|

Advertisement

वैसे तो जब से जाँच का दायरा बढ़ा है तब से उत्तर बिहार के अधिकांश जिलों में कोरोना संक्रमितों की संख्या तेजी से बढ़ रही है। चिंता की बात ये है की मुजफ्फरपुर की स्थिति कुछ अधिक ही गंभीर होती दिख रही है।
जब पहली बार बुधवार को 54 संक्रमण के कैcase मिले और उसके अगले दिन गुरुवार को 32 केस सामने आए थे तब से सब तरफ अफरा तफरी का माहौल बना हुआ है | मामला और गंभीर हो गया जब शुक्रवार को सबसे अधिक अधिक 58 लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आ गई। शुक्रवार को SKMCH की जाँच लैब में 516 सैंपल की जांच की गयी थी । इनमें 121 लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आयी है। मुजफ्फरपुर के अलावा बेतिया में 21 और सहरसा में भी 52 संक्रमित मरीज़ पाये गए हैं। एसकेएमसीएच के प्राचार्य डा.विकास कुमार इन सभी मामलो की पुष्टि की है । ​

डॉक्टरों में संक्रमण के मामले लगातार बढ़ते ही जा रहे हैं | सिर्फ पिछले तीन दिनों में जिले में 144 नए मामने सामने पाए जा चुके हैं | कोरोना संक्रमितों में डॉक्टरों और उनके परिजनों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। डॉक्टरों के संक्रमित होने के कारण कई क्लीनिक और अस्पताल सील किए जा रहे हैं। अन्य डॉक्टरों के साथ ही उनके संपर्क में रहने वाले कर्मियों और उनसे इलाज कराने वाले मरीजों में भी दहशत का माहौल है। प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग पॉजिटिव डॉक्टरों के संपर्क में आने वाले लोगों को चिन्हित कर रहे हैं। साथ ही उनसे स्वयं जांच कराने की भी अपील की है। ​अगर आप भी कसीस वजह से इन डाक्टरों के या उनके कर्मियों के संपर्क में आये हैं तो शीघ्र ही अपना जाँच करवाए अथवा सबकी सुरक्षा हेतु स्वयं घर में क्वारंटाइन होकर रहें | इस बीमारी का अभी तक सिद्ध किया हुआ कोई इलाज सामने नहीं आया है इसलिए समझदारी इसी में है की सम्मानित संस्स्थाओं द्वारा दिए गए निर्देशों को अवस्य पालन करें |

​वैसे तो यह एक दुखद समस्या है की हमारे शहर के डॉक्टरों में काफी संख्या में संक्रमण पाया गया है | इसलिए theainak अपने पाठकों से यह विनम्र विनती करता है की इस दुखद परिस्थिति में अपने शहर के डॉक्टरों के लिए प्रार्थना करें की वे जल्द से जल्द स्वस्थ हो जाये तथा साथ ही संक्रमित डॉक्टरों के लिए सहानुभूति रखें और उनके नाम अथवा उनकी निजी जीवन को सोशल मीडिया के माध्यम से प्रसारित नहीं करें

संक्रमित मिल रहे अधिकांश डॉक्टरों के क्लीनिक और आवास जूरनछपरा इलाके में है। इसलिए प्रशासन द्वारा उस इलाके को कंटेनमेंट जोन घोषित कर सील करने पर विचार किया जा रहा है। आज शनिवार को इस बात पर फैसला लिया जाएगा। शुक्रवार को हीं सभी अस्पतालों को सैनेटाइज करने की नोटिस जारी की गई थी ।कंटेनमेंट जोन बनाने पर आज विचार के लिए जिला अधिकारी ने एक विशेष मीटिंग भी बुलाई है |

theainak द्वारा corona virus सम्बंधित लोगो में जागरूकता फ़ैलाने के लिए नीचे दिया गया वीडियोजरूर देखें और अपने लोगो में शेयर करें

Tags

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Articles

Back to top button
Close