Muzaffarpur

जिलाधिकारी मुजफ्फरपुर डॉ०चंद्रशेखर सिंह की अध्यक्षता में प्रखंड /पंचायत स्तरीय बैठक |

जिलाधिकारी मुजफ्फरपुर डॉ०चंद्रशेखर सिंह की अध्यक्षता में प्रखंड /पंचायत स्तरीय क्वॉरेंटाइन केंद्रों के संचालन और उन केंद्रों में आवश्यक मूलभूत सुविधाओं की उपलब्धता को लेकर समाहरणालय स्थित सभाकक्ष में एक समीक्षात्मक बैठक आहूत की गई ।बैठक में उप विकास आयुक्त, नगर आयुक्त मुजफ्फरपुर ,अपर समाहर्ता आपदा, जिला स्तरीय सभी पदाधिकारी ,स्वास्थ्य विभाग के पदाधिकारी उपस्थित थे जबकि वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से सभी प्रखंडों के वरीय प्रभारी पदाधिकारी एवं प्रखंड स्तरीय अधिकारी जुड़े हुए थे ।बैठक में जिलाधिकारी ने सभी पदाधिकारियों को संबोधित करते हुए कहा कि अन्य राज्यों से जिले में आने वाले प्रवासियों की संख्या में इजाफा हो रहा है। आने वाले दिनों में प्रवासियों की संख्या में और वृद्धि होगी इस बाबत पूरी तन्मयता और गंभीरता से सभी पदाधिकारी अपने -अपने कर्तव्यों का निर्वहन करें और आने वाले प्रवासी श्रमिकों को चिन्हित क्वॉरेंटाइन केंद्रों में ही रखें। उन्होंने निर्देश दिया कि वैसे प्रवासी श्रमिक जो दिल्ली, मुंबई ,पुणे ,सूरत ,आह्मदाबाद एवं कोलकाता से आ रहे हैं उन्हें प्रखंड स्थित क्वॉरेंटाइन केंद्रों में रखें ।जो श्रमिक/कामगार इसके अतिरिक्त अन्य शहरों से आ रहे हैं उन्हें पंचायत /ग्राम स्तरीय क्वॉरेंटाइन केंद्रों में रखें

निर्देश दिया कि सरकार के निर्देश के आलोक में क्वॉरेंटाइन केंद्रों में आवासित प्रवासी श्रमिकों के लिए नाश्ता एवं भोजन की उपलब्धता स- समय सुनिश्चित हो साथ ही इस संबंध में किसी भी तरह की शिकायत का मौका ना मिले। सभी सुपर जोनल ,जोनल एवं सेक्टर पदाधिकारी निरंतर भ्रमणशील रहकर प्रखंड/ पंचायत स्तरीय क्वॉरेंटाइन केंद्रों की व्यवस्था का सतत अनुश्रवण करें। निर्देश दिया कि केंद्रों का प्रतिदिन स्थलीय निरीक्षण करें तथा वहां रह रहे प्रवासी श्रमिकों एवं अन्य लोगों से उनके समस्याओं के बारे में जानने का प्रयास करें ।यदि किसी प्रकार की समस्या प्रकाश में आती है तो प्राथमिकता के आधार पर उसका समाधान कराएं। प्रत्येक केंद्रों पर निरीक्षण पंजी संधारित होना चाहिए।जिलाधिकारी ने कहा कि वे स्वयं भ्रमणशील रहेंगे और भ्रमण के क्रम में अनुपस्थित पाए गए पदाधिकारियों और कर्मियों पर कड़ी कार्रवाई की l

Advertisement

बड़ी संख्या में प्रवासी मजदूर ट्रेन के माध्यम से जिले में आ रहे हैं। श्रमिक स्पेशल ट्रेन के अलावे अन्य जगहों से आने वाली ट्रेनों का भी स्टॉपेज के कारण ट्रेनों का स-समय आने की सूचना रेलवे द्वारा सही समय पर प्रतिवेदित नहीं किया जा रहा है।ऐसी स्थिति मे पकाए गए भोजन की गुणवत्ता प्रभावित होने की प्रबल आशंका बनी रहती है।अतः आज की बैठक में निर्णय लिया गया कि बाहर से आने वाले सभी प्रवासियों को चाहे वे जिस ट्रेन से आए हैं उन्हें चूड़ा, गुड पानी का बोतल एवं बिस्कुट का पैकेट उपलब्ध कराया जायेगा ।।

बैठक में सिविल सर्जन और डीपीएम को निर्देश दिया गया कि वे सुनिश्चित करें कि कोविड केयर सेंटर में भर्ती कोरोना के पॉजिटिव मरीजों को निर्धारित s.o.p. के अनुसार दवाई मिले तथा गुणवत्ता युक्त एवं समय से अल्पाहार भोजन उपलब्ध हो।इसे गंभीरता पूर्वक सुनिश्चित कराएं।साथ ही जो कोई भी पॉजिटिव मरीज की देखभाल करते हैं वे सभी सुरक्षा उपकरणों का उपयोग करें ।निर्दर्शित किया गया कि कोविड केयर सेंटर में प्रतिनियुक्त पारा मेडिकल स्टाफ एवं चिकित्सक नियमित रूप से पॉजिटिव मरीजों का निर्धारित प्रोटोकॉल के अनुसार गंभीरतापूर्वक देखभाल करें।

जिला में प्रखंड/ पंचायत स्तरीय कूल 637 क्वॉरेंटाइन केंद्र चल रहे हैं जिसमें 24299 लोग आवासित हैं।( खबर लिखने तक) 21410 लोगों को सहायता किट उपलब्ध कराया गया है ।शेष आने वाले सभी लोगों को अचूक रूप से सहायता किट उपलब्ध कराने का निर्देश जिलाधिकारी के द्वारा दिया गया है। जिलाधिकारी द्वारा निर्देश दिया गया कि प्रखंड/ पंचायत स्तरीय क्वॉरेंटाइन केंद्रों में आवासित प्रवासी कामगारों का डीटेल्स सम्पूर्ति पोर्टल पर अचूक रूप से करें। इस कार्य में तेजी लाएं ताकि प्रवासी मजदूरों को अनुमान्य सहायता उपलब्ध कराई जा सके ।
#muzaffarpur #theainak

Tags

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Articles

Check Also
Close
Back to top button
Close