India

फिर से फेंका गया मंदिर के सामने मांस, एक सनकी अधर्मी ने इन दोनों पवित्र स्थानों को किया अपमानित

in karnataka a man named Ram Prakash throws meat at a temple gets caught bt CCTV

इंसान अब इतना अधर्मी हो गया है कि अब वह मंदिर जैसे पवित्र स्थल की पवित्रता को भी नहीं समझ पा रहा। जब पूरी दुनिया और खासतौर से भारत विभिन्न तरह के प्राकृतिक आपदाओं से लड़ रहा है जिसमें खासतौर से इस कोरोना वायरस ने सब कुछ अस्त त्रस्त कर रखा है। ऐसे समय में जब सभी मनुष्य किसी ना किसी तरह से भगवान से प्रार्थना कर रहे हैं और ईश्वर की मदद चाह रहे हैं की उन्हें इस बीमारी से छुटकारा मिले । ठीक उसी समय में कुछ अधर्मी या उन्हें सनकी कहना ही ठीक होगा ऐसे भी हैं जो ईश्वर के पवित्र स्थलों को भी अपने दिमाग की गंदगी का शिकार बना रहे हैं।

अभी हाल ही में पिछले सप्ताह तमिलनाडु में 29 मई 2020 को एक ऐसा ही मामला सामने आया है। यहां तमिलनाडु के कोयंबटूर शहर में किसी ने 2 मंदिरों के सामने सूअर का मांस फेंक दिया। श्री वेणुगोपाल स्वामी मंदिर तथा श्री राघवेंद्र मंदिर के मुख पर किसी ने सूअर का मांस फेंक दिया। इतनी चालाकी से इस घटना को अंजाम दिया गया कि किसी को शक भी नहीं हुआ कि किसने फेंका है।

Advertisement

इस वारदात के बाद शहर में दो समुदायों में तनाव बढ़ने लगा। यहां तक कि शहर के बीजेपी जनरल सेक्रेट्री श्रीनिवासन ने तुरंत ऐसे अधर्मी कर्म के खिलाफ कार्रवाई की मांग की।

कोयंबटूर शहर की खासियत यह है की जगह जगह पर सीसीटीवी कैमरे (CCTV Camera) लगे हैं। पूरे शहर के सीसीटीवी को खंगाले जाने के बाद एक संदिग्ध बाइक का पता चला जो मंदिर के आगे पार्क की गई थी। इस सुराग के मिलने के बाद जब अन्य दूसरे सीसीटीवी को खंगाला गया तो यह भी कंफर्म हो गया उस बाइक वाले ने एक पास की दुकान से ही सूअर का मांस खरीदा था । बाइक का नंबर पता चलते हैं पूरा मामला एक्सपोज हो गया।

सबसे हैरानी वाली बात तो यह रही कि इस मांस फेंकने वाले का नाम हरी राम प्रकाश अय्यर है। वैसे तो वह व्यक्ति शिक्षा से एक इंजीनियरिंग ग्रेजुएट है। जी हां दुबारा पढ़ें कि वह दुष्ट व्यक्ति एक इंजीनियरिंग ग्रेजुएट है लेकिन इतना पढ़ने के बाद भी उस व्यक्ति में इतनी अकल न सकी कि भगवान के पवित्र स्थल को इस तरह से दूषित न करें। उससे भी ज्यादा हैरानी वाली बात यह है की कोयंबटूर शहर में ज्यादातर अय्यर जाति के लोग पूजा पाठ के कर्म में ही लगे हैं, फिर भी इस सनकी अधर्मी को एक भी पुण्य का गुण प्राप्त न हो सका।

खैर जब इस अपराधी का पता लग जाने के बाद मामला शांत हुआ, इस सनकी ने अपने आप को मेंटली अनबैलेंस बताना शुरू किया है। यह तो सोचने वाली बात है कि जो इंसान इतनी कुटिलता से ऐसे वारदात को अंजाम दे सकता है, साथ ही जिसने इंजीनियरिंग की पढ़ाई भी पूरी की हो, वह भला कितना मेंटली अनबैलेंस होगा। खैर यह काम पुलिस का है, फिलहाल मामला दर्ज कर उस पर कार्रवाई की जा रही है।

हम लोग भी ऐसे असामाजिक बदमाशों से सतर्क रहें क्योंकि माहौल के बिगड़ने से तो भला किसी का भी नहीं होता। अगर हमारा समाज एक दूसरे से मिलकर आगे बढ़ने की कोशिश करेगा तो जरूर ही हम अपने राष्ट्र के आत्मनिर्भर बनाने के सपने को पूरा कर सकेंगे।

अपने बच्चों को अच्छी शिक्षा और अच्छे आचरण सिखाएं। अपने बच्चों को भगवान की महिमा तथा भगवान के शक्तियों से अवगत कराएं। क्या पता यह कोरोना जैसी आपदा हम लोगों के अंदर बसी हुई ऐसी ही गंदी सोच का नतीजा हो जो भगवान हमें दंड स्वरूप दे रहा हो।

यदा यदा हि धर्मस्य ग्लानिः भवति भारत, अभि-उत्थानम् अधर्मस्य तदा आत्मानं सृजामि अहम्  

User Rating: Be the first one !

Tags

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Articles

Back to top button
Close