Entertainment

“ये जो तुम करने की कोशिश कर रहे हो ये रिस्पेक्ट नहीं चापलूसी है।”

what you are trying to do is known as sycophancy NOT respect

अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत के निधन ने Bollywood को कटघरे में लाकर खड़ा कर दिया है, कई दबी हुई सच्चाइयां लोगों के सामने लाई जा रही हैं। कई लोगों का कहना है कि, इंडस्ट्री ने Sushant Singh Rajput को जरूरत के वक्त सपोर्ट नहीं किया, जिस वजह से उन्होंने यह कदम उठाया। सुशांत सिंह राजपूत के आत्महत्या के बाद से करण जौहर, सलमान खान सहित कई स्टार्स सोशल मीडिया यूजर्स के निशाने पर आ गए हैं, लोग उन्हें जमकर ट्रोल कर रहे हैं।

यहाँ तक की मुजफ्फरपुर शहर में इन बड़ी फ़िल्मी हस्तियों के खिलाफ परिवाद भी दायर हो चूका है | इसी बीच सलमान खान के समर्थन में सुनील ग्रोवर ने किया ट्वीट, लेकिन जमकर हुए ट्रोल

Advertisement

सुनील ग्रोवर भी सोशल मीडिया यूजर्स के निशाने पर आ गए जब उन्होंने सलमान के समर्थन में ट्वीट किया ।
सुनील ग्रोवर ने अपने ट्वीट में लिखा, “मैं सलमान सर को प्यार करता हूं और इनकी इज़्ज़त करता हूं।” जिसके बाद सुनील सोशल मीडिया यूजर्स के निशाने पर आ गए, और उसके बात तो लोगों ने उन्हें ट्रोल करना शुरु कर दिया।

एक यूजर ने लिखा, “थोड़ा भी शर्म होता तो सत्य का साथ देता अब तेरा भी बहिष्कार होगा सुनील ग्रोवर।” वहीँ एक दुसरे यूजर ने लिखा, “इसका दुकान बंद है, बंद पड़ी दुकान को चलाने के लिए वो सलमान का चमचा गिरी कर रहा है। यही रसूख तो भांड कलाकार जो अपने को बिग बॉस समझते है और अपने मन से कलाकार बनाते और बिगाड़ते है, इनको सबक सिखाना जरूरी है।”

एक यूजर ने तो यहां तक लिख दिया कि “ये जो तुम करने की कोशिश कर रहे हो ये रिस्पेक्ट नहीं चापलूसी है।” एक अन्य यूजर ने लिखा, क्यों खुद की रेस्पेक्ट कम कर रहे हो। लगता है तुम्हारा पत्ता भी काटना पड़ेगा। एक अन्य यूजर ने लिखा, “तुमको कपिल शर्मा ने अपने शो से निकाल कर बहुत ही अच्छा काम किया है। और तुम को जूता भी मारा होता तो कोई बुरा काम नहीं करता। जूताखोर आदमी।”

आपको बता दें कि, सलमान खान ने भी खुद ही मामले पर प्रतिक्रिया दी है और अपने फैंस से अपील की है कि सुशांत के फैंस के साथ खड़े रहें। सलमान ने अपने ट्वीट में लिखा था, “मैं अपने सभी फैंस से गुजारिश करता हूं कि वे सुशांत के फैंस के साथ खड़े रहें और गलत भाषा का इस्तेमाल न करें। आप उनकी भावनाओं को समझने की कोशिश करें। इस संकट की घड़ी में सुशांत के परिवार का सहारा बनें क्योंकि किसी अपने के चले जाने का दर्द बहुत ज्यादा होता है।”

Tags

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close