Education and career

दुनिया की यह इतनी बड़ी कंपनी बिना किसी कॉलेज की डिग्री के देती है नौकरी, और सैलरी हर महीने लाखों में!

आज भी जब भारत में कुछ क्षेत्र ऐसे हैं जहां अच्छी शिक्षा की सुविधा नहीं पहुंच सकी है, इस वजह से अच्छे और होनहार बच्चे भी पढ़ाई पूरी नहीं कर पाते। हैरानी की बात तो यह है कि आजादी के बाद इतने साल गुजर गए लेकिन आज भी भारत के सभी बच्चों के नसीब में अच्छी शिक्षा नहीं हो सकी। वैसे तो भारत में आजादी होते ही घर-घर तक शिक्षा पहुंचाने के लिए कमर कस ली गई थी, और यहां तक की भारत के सबसे पहले शिक्षा मंत्री अब्दुल कलाम आजाद ने आईआईटी जैसे उच्च शिक्षण संस्थान खोलकर एक सपना संजोया कि भारत के संतान अपनी काबिलियत के वजह से ऊंचाइयों को छू सकेंगे। बहुत हद तक यह सपना पूरा भी हुआ, लेकिन अभी भी गांव तथा दूर-दूर के क्षेत्रों तक बहुत काम बाकी है। इन सब में कहीं ना कहीं, कारण गरीबी और साधनों की कमी हो जाती है।

अब यह तो सबको पता है इंटरनेट के दौर ने पूरी दुनिया में क्रांति ला दी है। और इसका सबसे बड़ा फायदा जो समाज को मिला है वह यह है कि अब किसी भी जानकारी के लिए दुनिया में कोई मोहताज नहीं। और बहुत सारे लोग जो यहां तक कि दूरदराज के ग्रामीण क्षेत्रों में भी रहते हैं उन तक कोई भी जानकारी आसानी से पहुंच सकते हैं। इन्हीं सब को सोचकर इंटरनेट के माध्यम से ऑनलाइन शिक्षा का प्रक्रिया शुरू किया गया। वैसे तो यह प्रक्रिया पहले भी भारत सरकार द्वारा दूरदर्शन के माध्यम से तथा प्रसार भारती के साथ मिलकर किया जाता था। लेकिन इंटरनेट के आने से इसमें और आसानी हो गई। अब कोई भी कहीं से भी रहकर कोई भी हुनर सीख सकता है।

Advertisement

लेकिन हमेशा यह सवाल रहता है कि कुछ सीख करके भी होगा क्या? क्योंकि सबसे बड़ी परेशानी गरीबी है ! भूख है,!

रोजी रोटी तो सबको ही चाहिए, इसीलिए आज हम इस लेख में आपके लिए लाए हैं वह जानकारी जो जानकर आप आश्चर्यचकित हो जाएंगे और यह सोचने पर मजबूर हो जाएंगे कि अगर सीखने की इच्छा हो तो कामयाबी दूर नहीं।

जी हां ! हम बात कर रहे हैं दुनिया के सबसे बड़ी कंपनियों में गिने जाने वाली एक कंपनी जिसका नाम है गूगल! वैसे तो दुनिया में शायद ही आज कोई होगा जिसने गूगल GOOGLE का नाम नहीं सुना होगा लेकिन क्या आपको पता है कि गूगल भी उन कंपनियों में से एक है जो हुनर के सामने डिग्री नहीं देखती। यहां तक की गूगल कंपनी में काम करने वाले लगभग 14% लोगों के पास कोई भी कॉलेज की डिग्री नहीं है। गूगल ने उन्हें सिर्फ उनकी काबिलियत की वजह से रखा है। आपको जानकर और भी यह हैरानी होगी कि गूगल खुद ही बहुत सारी ऑनलाइन मुफ्त शिक्षा का आयोजन करता रहा है तथा उसमें कामयाब होने वाले लोगों को नौकरी भी देता रहा है।

वैसे बिना डिग्री के नौकरी देने वालों में सिर्फ गूगल का ही नाम एकलौता नहीं है। Elon Musk , जो दुनिया के जाने माने ज्ञानी व्यक्तियों में शुमार होते हैं तथा उनकी कंपनी टेस्ला का एक अलग ही पहचान है दुनिया में। टेस्ला कंपनी भी बिना डिग्री वाले लोगों को नौकरी देने में बिल्कुल हिचकिचाहट नहीं करती है। शर्त यह है कि आप के पास वह काबिलियत होनी चाहिए जो उन्हें चाहिए।

अब यह सब पढ़ने के बाद आप सोचने पर मजबूर हो गए होंगे कि आखिर उन्हें ऐसा क्या चाहिए जो कि बिना किसी डिग्री वाले इंसान के पास भी मिल जाता है। इसका आसान जवाब एक उदाहरण से समझिए।

मान लीजिए गूगल मैप नाम का एक एप्लीकेशन है जो लोगों को यह बताता है कि आपको किस रास्ते से कहां जाना है किस रास्ते से आप जल्दी पहुंच सकते हैं। अब अगर यह एप्लीकेशन किसी ऐसे देश में चलाना हो जहां के लोग अंग्रेजी नहीं जानते हो लेकिन वहां की क्षेत्रीय भाषा में माहिर हो। फिर गूगल कंपनी को एक ऐसे व्यक्ति की जरूरत होगी जो उस क्षेत्रीय भाषा में महारत रखता हो । बस फिर क्या , गूगल वैसे लोगों की तलाश शुरू करता है और वैसे भाषा के जानकारों को नौकरी पर रखता है।

सिर्फ भाषा ही नहीं अगर कोई ऐसा व्यक्ति है जो अच्छी तरह से किसी विषय का ज्ञानी है तो गूगल या टेस्ला जैसी कंपनियां वैसे लोगों को भी नौकरी का मौका देती। आप खुद भी जानकारी के लिए जाकर गूगल पर सर्च कर सकते हैं के बिना डिग्री के नौकरी कैसे मिलेगी। यह आप उनके वेबसाइट पर जाकर careers section में देख सकते हैं।

तो बस देर किस बात की अगर आपको भी ऐसा लगता है कि आप मेहनत करके ऊंचाइयों को पहुंचना चाहते हैं, तो फिर सहारा लीजिए इंटरनेट का, ढूंढिए, पढ़िए, और अपने जीवन को दीजिए एक नई ऊंचाई

Tags

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Articles

Back to top button
Close